भाई से रंडी बनकर चुदी

 
loading...

Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai हैल्लो दोस्तों.. मेरा नाम प्रीती है और मेरी उम्र 19 साल है.. हाईट 5 फिट 6 इंच और फिगर 34-28-34 है। मेरा रंग गोरा है… मेरी फेमिली में मम्मी, पापा, दो बड़े भाई और एक बड़ी बहन है और हम सभी खुले विचारों के है और हमारी फेमिली में किसी भी तरह की कोई पाबंदी नहीं है। फिर मैंने एक दिन इंटरनेट पर मैंने एक क्लब का पता देखा। वहाँ पर एक नये साल की पार्टी थी और मेरा रौल सीक्रेट था सिर्फ़ मुझे मोबाईल नंबर दिया था। तो मैंने कुछ सोचकर संपर्क किया तो ऑर्गनाइज़र ने कहा कि यह एक गुप्त पार्टी है.. लडकियों और औरतों के लिए कोई एंट्री फीस नहीं है.. लेकिन आदमी के लिए है। अगर वो आदमी किसी लड़की के साथ है तो उसकी भी एंट्री फ्री है। तो मैंने पूछा कि इसमे सीक्रेट पार्टी की क्या बात है? तो उसने कहा कि यह एक सेक्स पार्टी है इसमे सभी मास्क पहन कर आयेगे… कोई भी किसी की सूरत नहीं देख सकता और इस पार्टी में फ्री सेक्स होता है और कोई भी किसी के भी साथ सेक्स कर सकता है इसमें लड़की और लड़का कोई भी मना नहीं करता है। फिर मैंने उससे कहा कि में भी शामिल होना चाहती हूँ तो उसने मेरा नाम और मोबाईल नंबर लिया और फिर एक कोड मुझे दिया और बोला कि यह कोड आपकी पहचान है और पार्टी वाले दिन आपके मोबाईल पर एक मैसेज आ जायेगा और आप बताये हुए पते पर आ जाना.. लेकिन मास्क पहनकर ही आना वरना एंट्री नहीं मिलेंगी।

तो मेरे मन में बहुत खलबली मची थी कि पार्टी में सेक्स कैसे होता है? क्योंकि में अभी तक सेक्स से बहुत दूर ही थी और यह सोचते हुए मैंने अपने लेपटॉप पर एक सेक्स साईट खोली और देखने लगी कि कौन ऑनलाईन है जिससे में चेट कर सकूं। तभी एक फ्रेंड रिक्वेस्ट आई और वो कोई लड़का था। मैंने उसे खोल लिया तो उसने वीडियो चेट का मैसेज भेजा और मैंने भी वेबकैम स्टार्ट किया और उसका मुँह अपनी छाती की तरफ कर दिया ताकि मेरा चेहरा उसमे ना आये और उस लड़के ने भी अपना चेहरा ढक रखा था। फिर हम थोड़ी देर नॉर्मल बातें करते रहे। फिर उसने सेक्स के बारे में बात करनी शुरू कर दी.. में तो वैसे भी खुले विचार की थी मैंने भी उसको जवाब दिया। तभी अचानक मेरी नज़र उसकी उंगली पर गयी उसने जो अंगूठी पहनी हुई थी ठीक वैसी अंगूठी मेरे बड़े भैया पहनते थे और में बहुत चौंक गयी.. क्या ये भैया है? फिर सोचा कि नहीं.. लेकिन फिर मेरा मन नहीं मान रहा था.. तो में धीरे से उठी और भैया के कमरे के पास गयी। फिर धीरे से एक होल में से देखा कि वो क्या कर रहे है?

तो वो भी अपना लेपटॉप स्टार्ट करके बेड पर बैठे थे.. लेकिन इससे यह कैसे पता चले कि चेट करने वाले मेरे भैया ही है? तभी अचानक मैंने दिमाग़ लगाया और अपने रूम में जाकर थोड़ी सी लिपस्टिक अपनी एक उंगली पर लगाई। फिर पानी का जग लेकर भैया के रूम का दरवाजा खटखटाया.. तो भैया ने पूछा कि क्या हुआ? तो में बोली कि में आपके लिए पानी लाई हूँ यह कहकर अंदर गयी.. लेकिन मुझे देखकर उन्होंने लेपटॉप का मुँह घुमा दिया और बोले कि ला मुझे दे और फिर मैंने उनको जग देने के बहाने उनकी रिंग वाली उंगली पर अपनी लिपस्टिक लगा दी। उन्हे इस बात का पता ही नहीं चला और में वापस अपने रूम में आई और मैंने देखा कि 8-9 मैसेज उनके आये हुए थे। फिर जब मैंने वापस मैसेज किया तो जवाब आया कि इतनी देर कहाँ थी? लेकिन मेरा ध्यान तो उनकी उंगली पर था और उनकी उंगली देखकर मेरा दिल धक-धक करने लगा.. क्योंकि मेरी लिपस्टिक की वजह से उनकी उंगली लाल हो गयी थी। उन्होंने फिर पूछा कि इतनी देर कहाँ थी तो में सोच रही थी कि क्या जवाब दूँ? फिर जवाब दिया कि में पानी पीने गयी थी और वो फिर से सेक्स के विषय पर आ गये और में सोच रही थी कि भैया से चेट करूं या ना करूं? फिर मैंने सोचा कि उन्हे पता तो चलेगा नहीं क्यों ना थोड़ी मस्ती कर ली जाये.. साथ ही सेक्स की बातें करते हुए मेरी भी चूत गीली हो रही थी। तो मैंने अपना रूम अच्छी तरह बंद किया और वापस चेट के लिए बैठ गयी और फिर एक उंगली मैंने अपनी चूत में डाली और धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगी। तभी उनका मतलब मेरे भैया का मैसेज आया कि अपने बूब्स दिखाओ ना प्लीज। तो में एक बार तो सोच में पड़ गयी कि अब क्या करूँ? और मेरे दिल की धड़कन बड़ गयी.. लेकिन मुझे मज़ा भी आ रहा था.. फिर कुछ सोचकर मैंने अपना टॉप खोल दिया और मेरे बूब्स ब्रा में थे।

फिर उन्होंने कहा कि ब्रा भी उतारो ना और मैंने वो भी उतार दी.. वो मेरे बूब्स देखकर पागल हो गये। यह उनकी हरकत से पता लग रहा था। फिर उन्होंने कहा कि क्या तुम भी कुछ देखना चाहती हो? तो मैंने जवाब दिया कि हाँ। तो उन्होंने कहा कि क्या? तो में सोच में पड़ गयी और फिर मैंने थोड़ी हिम्मत करके लिखा कि आपका लंड.. तो उन्होंने जल्दी से अपनी पेंट खोल दी और अपना लंड केमरे के सामने हिलाने लगे और यह देखकर मेरे शरीर में आग लग गयी और में सोचने लगी कि अब तो यह लंड हक़ीक़त में ही लेना है.. पार्टी जब होगी तब देखा जायेगा। यह तो अभी मिल सकता है और मैंने अपने दिमाग़ में आगे का प्लान बना लिया और खुलकर चेटिंग करने लगी। फिर मैंने उनसे उनकी फेमिली के बारे में पूछा तो उन्होंने एकदम सही जवाब दिया.. फिर उन्होंने मुझसे कहा कि क्या में एक बात बोलूं? तो मैंने कहा कि हाँ.. तो वो बोले कि क्या तुम मुझे अपनी चूत दिखाओगी? में भी तो यही चाहती थी और फिर मैंने कहा कि ज़रूर और मैंने अपनी स्कर्ट, पेंटी को उतार दिया और मैंने उनसे पूछा कि कभी किसी लड़की को चोदा है? तो उन्होंने कहा कि नहीं.. फिर मैंने पूछा कि क्यों कभी इच्छा नहीं हुई? और उनका जवाब सुनकर में बहुत हैरान हो गयी.. क्योंकि में इस बारे में पहले तो सोच भी नहीं सकती थी। लेकिन अब ज़रूर सोच रही थी और उस पर काम भी चालू कर दिया था। फिर उन्होंने जवाब दिया कि मेरी एक छोटी बहन है वो बहुत सेक्सी है और उसे देखकर मेरा लंड खड़ा हो जाता है लेकिन में उसे कैसे चोद सकता हूँ?

तो मैंने ख़ुश होकर कहा कि क्यों.. वो क्या लड़की नहीं है या उसके पास चूत नहीं है। तो वो बोले दोनों है लेकिन वो मेरी बहन है। फिर मैंने कहा कि तुम मेरे बताये हुए तरीको पर काम करो.. वो भी तुम्हे मिल जायेगी। तो उसने कहा कि वो कैसे? फिर मैंने कहा कि वो भी जवान लड़की है उसकी भी चूत में खुजली होती है और वो कहीं बाहर जाकर चूत मरवायेगी इससे तो अच्छा है तुम घर में ही उसकी चूत मार लो। तो उन्होंने कहा कि मुझे बहुत डर लगता है.. फिर मैंने कहा कि आज से ही शुरुआत कर लो। तो उसने कहा कि वो कैसे? में बोली कि वो अभी क्या कर रही है तो वो बोले कि शायद सो रही है.. तो मैंने कहा कि जाकर देखो.. अगर सोई है तो धीरे से एक लिप किस देना और देखना कि उसका क्या विरोध होता है। फिर मैंने अपना पी.सी साईड में किया और आँखे बंद करके लेट गयी और करीब 5 मिनट के बाद भैया मेरे रूम में आये तो वो धीरे-धीरे मेरे बेड की तरफ बड़ने लगे और मेरे पास आकर मुझे गौर से देखा कि में सो रही हूँ या नहीं? फिर बहुत डरते हुए.. धीरे से मेरे होंठ चूसने लगे।

तो फिर मैंने भी अपने होंठ उनके मुँह में डाल दिए और उन्होंने घबराकर अपना मुँह दूर कर लिया और रूम से बाहर चले गये.. तभी में तुरंत उठी और अपना पी.सी स्टार्ट किया तो वो फिर से ऑनलाइन थे। मैंने पूछा क्या हुआ? तो उन्होंने कहा कि उसने भी अपने होंठ मेरे मुहं में डाल दिए। तो मैंने कहा कि बस फिर क्या तुम्हारा काम बन गया। उसे भी लंड चाहिये और तुम्हे चूत.. आग दोनों तरफ बराबर लगी है और अब इसका फायदा उठाओ और आगे बड़ो.. तो उन्होंने पूछा कि वो कैसे? फिर मैंने कहा कि वापस उसके पास जाओ और इस बार बिल्कुल भी डरना मत और होंठ भी छोड़ना मत और उसे चूसते हुए धीरे-धीरे उसके बूब्स दबाना.. वो कुछ ना बोले तो धीरे से उसकी निप्पल भी दबाना और चूसना। फिर इसका तुम कमाल देखना.. वो खुद तुम्हे अपनी चूत चोदने को बोलेगी। तभी भैया बोले कि अगर वो पहले ही जाग गयी और गुस्सा हो गयी तो क्या होगा? फिर मैंने कहा कि अगर उसे जगना होता तो वो अपनी होंठ तुम्हारे मुँह में नहीं देती और में भैया को उकसा रही थी कि वो पहले अपनी तरफ से करे.. क्योंकि मेरी चूत सेक्स के बिना जल रही थी लेकिन में खुद भैया को चोदने के लिए नहीं बोल सकती थी।

फिर मैंने अपना पी.सी बंद किया और नाईट ड्रेस पहन कर सो गयी। मेरे मन में गुदगुदी हो रही थी कि आज मेरी चूत की सील खुलने वाली है और वो भी अपने भाई के साथ। फिर 10 मिनट के बाद भैया वापस मेरे रूम में आये और इस बार वो पूरी तैयारी के साथ आये थे और वो मेरे पास आकर बैठे और मुझे प्यार से देखने लगे और धीरे-धीरे मेरे गालों को सहलाने लगे। में चुपचाप लेटी रही और मज़ा लेने लगी और मेरी चूत से रस निकलने लगा.. भैया ने धीरे से मेरे होठों को चूमा और फिर मेरी जीभ को चूसने लगे तो मुझसे रहा नहीं गया और में भी थोड़ा और खेलना चाहती थी। तो मैंने अपनी तरफ से कुछ हलचल नहीं की.. भैया की हिम्मत बढ़ गयी और वो मेरी जीभ से खेलते हुए मेरे बूब्स को भी दबाने लगे और धीरे-धीरे मेरे बूब्स टाईट होने लगे। निप्पल भी अंगूर के दाने की तरह फूलने लगे और में चाहती थी भैया इन्हे ज़ोर से मसल दे।

फिर भैया ने मेरे होंठ को छोड़कर मेरे टॉप को ऊपर किया और एक निप्पल को चूसने लगे और अब में उनको कामुक लगने लगी.. मैंने अपनी आँखे खोल दी और भैया को देखने लगी। तो मुझे जगा देखकर वो बहुत डर गये और बोले कि सॉरी। फिर मैंने पूछा कि किस बात के लिए? तो वो बोले कि में बहक गया था.. तो मैंने प्यार से कहा कि कोई बात नहीं.. लेकिन अब इसे पूरा तो कीजिये। तभी वो मेरी यह बात सुनकर बहुत चकित हो गये और बोले कि क्या मतलब? तो मैंने धीरे से उनके मुँह में अपना एक बूब्स दे दिया और बोली कि भैया अपनी इच्छा पूरी कीजिये और साथ में मुझे भी संतुष्ट कीजिये। तो वो बूब्स चूसते हुए बोले कि लेकिन मेरी एक शर्त है? तो मैंने कहा कि वो क्या? तो वो बोले कि मुझे सेक्स करते समय में गालियां बहुत पसंद है तो तुम भी गाली देकर सेक्स करोगी और आज के बाद मेरी बीवी बनकर रहोगी.. तो मैंने कहा कि मुझे मंजूर है बहनचोद राजा और वो बहुत खुश हो गये और मुझे अपनी गोद में उठा लिया। फिर में खड़ी हो गयी तो पहले उन्होंने मुझे नंगी कर दिया और लाईट जला दी और मुझे बहुत शर्म आ रही थी तो वो बोले कि रंडी तू मेरी अब बीवी है शरमा क्यों रही है अभी तो में तेरी चूत पिऊंगा और गांड में लंड भी डालूँगा।

फिर मैंने कहा कि चूतिये.. कुछ भी कर ले आज की रात तेरे नाम है और गौर से मेरी चूत को देखने लगे। फिर उन्होंने अपना मुँह मेरी चूत पर रख दिया और उनकी जीभ धीरे-धीरे मेरी चूत के अंदर जा रही थी। में पागलों की तरह आगे पीछे होने लगी और फिर मुझे पेशाब आने लगा।

फिर मैंने कहा कि भोसड़ी के मेरा पेशाब निकल रहा है क्या तू पियेगा? तो वो ख़ुशी से बोले कि कुतिया आज तो में तेरा कुछ भी पी लूँगा और मैंने अपने दोनों पैर फैलाकर उनका मुँह अपनी चूत पर लगा लिया और ज़ोर से पेशाब करने लगी। वो मेरा पेशाब पीकर खुश हो गये और बोले कि आज तुमने मुझे खुश कर दिया.. बोल क्या चाहिए? तो मैंने कहा कि अभी तो तेरा लंड लेना बाकी है जान.. में उनका लंड चूसने लगी.. तभी थोड़ी देर में वो गर्म होकर बोले कि इसे मुँह में ही रखेगी या चूत में भी डलवायेगी? में जल्दी से बेड पर लेट गयी और उन्होंने अपने लंड का सुपाड़ा मेरी गोरी चूत के मुँह पर रखा और धीरे धीरे अंदर डालने लगे। तभी मुझे मेरी चूत पर बहुत ज़ोर का दर्द महसूस हुआ और मैंने कहा कि थोड़ा धीरे.. लेकिन उन्होंने तो जैसे इसका मतलब उल्टा समझा और वो बोले कि रंडी ये ले और उन्होंने एक बार में ही पूरा का पूरा 8 इंच लम्बे लंड को मेरी चूत के अंदर कर दिया और फिर मेरी आँखो के सामने सतरंगी तारे नाचने लगे। अब मेरी चूत फट चुकी थी और उसमे से खून निकलने लगा।

फिर वो धक्के लगाते हुए मेरे बूब्स दबाने लगे.. तभी में थोड़ी देर में ठीक हो गयी और बोली कि डियर ओर ज़ोर से आज इस चूत को इस लंड की पूरी गर्मी निकालनी है तो भैया भी मेरी गोल-गोल गांड को पकड़कर ज़ोर-ज़ोर से मेरी चूत को ठोकने लगे। करीब 15 मिनट के बाद वो बोले कि रानी में झड़ने वाला हूँ। तो मैंने कहा कि राजा आज मेरी चूत में नहीं मेरे मुँह में झड़ना ताकि में अगली चुदाई से गर्भ निरोधक गोलियां शुरू कर दूँगी। फिर चाहो जितना माल मेरी चूत में डालना। तो उन्होंने अपना लंड मेरी चूत से बाहर निकाला और मेरे मुँह में डाल दिया और फिर अपना ताज़ा पानी मेरे मुँह में छोड़ा। में तो जैसे स्वर्ग में पहुँच गयी.. मैंने लंड को जीभ से चाटकर साफ किया और पूछा कि क्या अब खुश हो? तो उन्होंने मुझे प्यार से गले लगा लिया और मेरी गांड को सहलाते हुए बोले कि तुम्हारी यह गोल-गोल गांड बड़ी प्यारी है।

तो में जल्दी ही उनकी बात का मतलब समझ गयी और मैंने कहा कि फिर देर किस बात की है आज इसे भी ले लो। फिर वो आगे बड़े और धीरे-धीरे मेरी गांड के छेद को सहलाने लगे तो मुझे गुदगुदी होने लगी और बहुत अच्छा भी महसूस कर रही थी और में भी उनके लंड से खेलने लगी। मैंने उनकी छाती पर हाथ फेरते हुए उनका लंड चूसने लगी.. वो मस्त हो रहे थे और फिर उन्होंने मुझे थोड़ा झुकने का इशारा किया तो में जल्दी से कुतिया बन गयी और मेरी गांड पूरी ऊपर हो गयी और मेरी गांड का टाईट छेद उन्हे मदहोश करने लगा। वो एक कुत्ते की तरह मेरी गांड के छेद में अपनी नाक घुसाने लगे और मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था। फिर भैया अपनी जीभ मेरे छेद पर घुमाते हुए अंदर बाहर करने लगे। जिससे छेद थोड़ा रसीला हो गया और अब अपनी एक उंगली छेद में डालकर छेद को थोड़ा नरम करने लगे। तो मैंने भी अपनी तरफ से गांड को थोड़ा ढीला कर दिया। ताकि उनको कोई भी परेशानी ना हो और थोड़ी देर तक उंगली करने से छेद थोड़ा नरम हो गया।

फिर मैंने ऊपर आने का इशारा किया और भैया भी समझ गये और वो अपना लंड छेद में घुसाने की कोशिश करने लगे। लेकिन छेद बहुत टाईट था तो मैंने अपनी कोल्ड क्रीम उन्हें दी.. वो हंसते हुये उसे मेरी गांड के छेद पर लगाने लगे और अब उन्होंने अपना 8 इंच लंबा लंड मेरे छेद पर रखा और बोले कि जान थोड़ी सी हिम्मत रखना और मेरा जवाब सुने बिना ही एक ही बार में उन्होंने अपना पूरा का पूरा लंड गांड में उतार दिया।

तो में बहुत ज़ोर से चिल्लाई और मुझे लगा कि मैंने अपनी लाईफ की सबसे बड़ी ग़लती गांड मरवाकर की है.. लेकिन मेरे पछताने से अब कुछ नहीं हो सकता था और मेरी चूत के साथ-साथ आज मेरी गांड का भी कत्ल हो गया था.. वो भी फट चुकी थी। अब वो धीरे-धीरे धक्का लगाने लगे और बोले कि अब तुम्हे भी मज़ा आयेगा। तो में बोली कि मेरी गांड फाड़कर मुझे बोल रहे हो कि मज़ा आयेगा। लेकिन वो सच बोल रहे थे और धीरे-धीरे मुझे भी मज़ा आने लगा। करीब 20 मिनट के बाद वो बोले कि क्या गांड में तो माल छोड़ सकता हूँ ना? तो मैंने हँसकर कहा कि में इसमे तो पूरी दुनिया से माल छुड़ा सकती हूँ। तो भैया भी हंसते हुए बोले कि वक़्त आने पर दुनिया के लंड भी इसमे डाल दूंगा और मेरी गांड में झड़ने लगे और अब हम दोनों बहुत थक चुके थे। वो वापस अपने रूम में जाने लगे तो मैंने कहा कि अपनी बीवी को छोड़कर कहाँ जा रहे हो? वो बोले कि नीचे मम्मी, पापा, भाई और दीदी भी है। वो मुझे तुम्हारे रूम में सोया देखकर क्या सोचेंगे? तो मैंने कहा कि क्यों डर गये? तो वो बोले कि नहीं और मुझे गले लगा लिया। फिर हम एक दूसरे को बाहों में भरकर मेरे रूम में नंगे ही पति पत्नी की तरह सो गये ।।



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


story xxx hindi meSEKQ KAHANI RISTEDARO HINDI.COMअंधेरे मे खङे खङे चुदाईxxx vibey2017www.bahan ma bnayaxxx kahani.comhindy sex storyodla bodol kahani bahandesi incest sex story in hindichoutchodaikhanihindi,comsexkehani,inxxx .12.sal.vahi.vahan.vedao.sexworker ki chudayi kahanicondamse.comchudaiMjedar chudai hindikhani Antervasna Hindi mai sex storyBade lund se Choda sex storydevar Ne bhabhi koकामुकता चाची के बुब्स व पीठ की मसाजदीदी छुडवाया भाई से नीद गर्मी में सलवारdidichodaikahanido bidhwa ante xxx aek sat hinde khaneindian sexy storiहिंदी सेक्स स्टोरी बरसात मैंsasur bahu sex storiesmastram ki kahani 2010desi girl antervasna storisbhabhi aur devar sexy videoLucknow me kamwali bai ki chudai kiDesi.jeth.baho.geho.khet.khanixxx.maa.ko.jabrdahti.coda.na.ki.kahni.hndie.machutsuhagratstoryxxx chudai storieshindi maa sex storydo.bhabhi.ki.akh.sata.xxx.chudae.khaniya.hindasambhog katha in hindihindi desi storyघर मे दिलखोल के चुत चुदवई चुदाई कहानीnewchodistory khaniwww Rishton may chudie hindistoryसेकसी कहानी जबरजती की चाची की हिदी मे 2018 commosi ko dea mota lad saxy khanihot cudai khaneya kamuktastories.com onele andhara mexnzxxxindian sexबडे लनड पियासी रितूantarvasna mrathi hinde restome chudai storyअन्तर्वासनाchodai storyya hindi 2018पहली वार रंडी बनकर चुदी कहानिwww buachodan comdidi kojabran chodh diya storydase sex sonika bhagalpur11 sal ki bhan sath sex ghar pहिदी सेकसी कहानियाँ माँ को देखा चुदते रात में नौकर के साथhindisxestroychudai kahani picshindi xxx sex imagesanterwasnasexstories.comhindi saxy satoryपती ऑफिस जाने के बाद चुदाई पोरंsexy kahaniyashindisxestroylauda aur bur ki kahani familyantervashna sex storieshindisxestroyneta ji ki biwi sex story in hindiAntarvsna sex estore ihned ma bhay bhanantervashna storyxxx chudodi anty hindi storykasuta marathi hot dot com xxxAntrvasana storryबयफ पिकर कोलिज किनीरजा मम्मी और शिल्प आंटी के साथ चुदाई कहानीantarvasna pdf fileहिंदी सेक्सकहानिकामुकता कॉमhindisxestroystorychodnekido bidhwa ante xxx aek sat hinde khaneइंडियन हिंदी चुड़ै स्टोरी इन हिंदी फॉन्ट टैग बच्चे ममी भाभीantarvasna hindi adla badli group sexantrvasna chunmuniya dot com. hindi sex kahani didi ki klitriyl sexshi vedio cut faadसेकसी कहानियाअन्तर्वासना दीदी बीबीsavita bhabi hindi.comxxx chute may hath say hila kay girana video com