तू आज मुझे पूरे मज़े लेने दे मेरी जान और ये बात बोलते हुए उसने मेरी गान्ड में अपना लन्ड घुसा दिया और ….

 
loading...

मेरी पहली सच्ची कहानी है और अब मेरा परिचय, मेरा नाम फरहीन है और में मुंबई में रहती हूँ. में अभी तक कुंवारी हूँ और मेरे फिगर का साईज मेरे बूब्स 36 इंच, कमर 34 इंच और 40 इंच कूल्हे है. बहूत सारे लड़के मेरे जिस्म के सेक्सी अंगो को घूर घूरकर देखते है और मुझे उनका ऐसा करना बहूत अच्छा लगता था, लेकिन में भी अपने फिगर को देखकर मन ही मन बहूत गर्व महससू करती और अपने फिगर को उन सभी को ज्यादा से ज्यादा दिखाती और उन्हें अपनी तरफ आकर्षित करती थी. मुझे ऐसा करना बहूत अच्छा लगता था और अब में सीधे अपनी आज की कहानी पर आती हूँ. दोस्तों ये उन दिनों की बात है जब में एक कॉलेज में पढ़ती थी और वो मेरा पहले साल मेरा विषय आर्ट्स था और उससे पहले मेरे पहले वाले बॉयफ्रेंड से मेरा ब्रेकअप हो चुका था. उससे मेरा चक्कर कुछ समय तक ही चला था.

एक दिन कॉलेज के एक समारोह में मेरी मुलाकात एक लड़के से हुई थी जिसका नाम आसिफ़ था, वो दिखने में बहूत ठीकठाक था उसका रंग गोरा और उसकी लम्बाई करीब 5.11 होगी और वो दिखने में थोड़ा तन्दुरुस्त भी था और उसने मुझे पहली नज़र में ही पसन्द कर लीया था और दूसरे दिन उसने मुझसे अपने प्यार का इजहार भी किया. मैंने भी थोड़ा नखरा दिखते हुए कुछ देर में उसका वो प्यार का आग्रह स्वीकार कर लीया, क्योंकि में अपने पहले वाले ब्रेकअप से थोड़ी उदास सी हो गई थी इसलिए मुझे अब किसी का साथ चाहिए था जो अब मुझे मिल चुका था और अब हम फ़ेसबुक पर फोन पर दिन रात बात करते थे, कॉलेज में मिलते थे, उधर उधर घूमते थे. दोस्तों इस बीच आसिफ़ की पढ़ाई पूरी हो चुकी थी, लेकिन फीर भी वो मुझसे मिलने कॉलेज में आता था. अब हम फोन पर धीरे धीरे सेक्सी बातें भी करने लगे थे, लेकिन एक दिन वो मुझे एक बार फिल्म दिखाने ले गया और फीर दो टिकट लेकर वो बिल्कुल आखरी वाली सीट पर मेरे साथ बैठकर सही मौका देखकर मेरे जिस्म के सेक्सी अंगो के साथ छेड़छाड़ करने लगा.

दोस्तों पहले तो में उसके ये सब मेरे साथ करने से बहूत शरमाई, लेकिन फीर कुछ देर के बाद मुझे भी उसका ये सब मेरे साथ करना धीरे धीरे अच्छा लगाने लगा था. इसलिए मैंने उसे मना नहीं किया और उसने कुछ देर मेरे बूब्स को दबाकर, मसलकर अच्छी तरह निचोड़कर मुझे जोश में लाकर पूरी तरह गरम करके छोड़ दिया और उसके बाद हम वहां से अपने अपने घर पर चले आए. फीर मैंने अपने घर पर पहुंचकर उसके बारे में बहूत बार सोचा तो मुझे बहूत घंटो तक नींद नहीं आई, में बस उसके ही बारे में सोचती रही और ना जाने कब में सो गई. फीर दूसरे दिन उसने मुझे अपने घर पर बुलाया, लेकिन उस समय में उसके घर पर जाने के लिए तैयार नहीं थी इसलिए मैंने उसे साफ साफ मना कर दिया. फीर वो मुझसे बहूत बार आग्रह करने लगा और मुझसे बोला कि मेरी जान मुझे तेरे साथ कुछ जरूरी बात करनी है.

अब मैंने एक बार फीर से उसे मना किया तो वो मुझसे बोला कि में तुम्हे तुम्हारे कॉलेज से आकर ले जाऊंगा. फीर मैंने भी बोला कि में भी देखती हूँ कि तुममें कितना दम है? और फीर वो करीब 15 मिनट में हमारे कॉलेज में आ गया और मुझे जबरदस्ती वहां से अपने साथ में लेकर आ गया. में उसे वहां पर देखकर बहूत चकित हो गई क्योंकि मुझे बिल्कुल भी विश्वास नहीं था कि वो जो अभी कुछ समय पहले कह रहा था वो वैसा कर भी सकता है, लेकिन उसने वैसा ही किया और में चुपचाप उसके साथ चली गई. दोस्तों उस दिन मैंने बड़े गले की कमीज़ पहनी हुई थी और मेरी सलवार पूरी जालीदार थी. में उस सलवार कमीज़ में बहूत सेक्सी लग रही थी और मेरे बड़े बड़े बूब्स मेरी उस कमीज़ से बाहर झांक रहे थे और मेरी गान्ड का वो बड़ा सा आकार साफ साफ नजर आ रहा था.

फीर थोड़ी देर के बाद में हम घर पर पहुंचे और हमने कुछ खाया पिया और उसके बाद आसिफ़ ने कंप्यूटर चालू किया और मुझे अपने पास बुलाया और मुझसे अपनी गोद में बैठने के लिए बोला. फीर वो कंप्यूटर पर लगा हुआ था और में उसकी गोद में बैठी हुई थी. अब उसने कंप्यूटर पर एक ब्लूफिल्म को लगाया और अब वो धीरे से मेरी कमीज़ को थोड़ी सी ऊपर उठाकर ज़िप खोलकर मेरी गान्ड में अपना लन्ड रगड़ने लगा था. फीर में कुछ देर बाद एकदम से उठ गई तो उसने मुझ को पकड़ कर एक दीवार से चिपका दिया और अब हम लोग स्मूच करने लगे थे और वो नीचे से मेरी सलवार में अपना एक हाथ डालकर मेरी चुत पर हाथ घुमा रहा था. वो मेरी चुत को सहलाकर मेरे जिस्म को गरम कर रहा था. फीर मैंने सही मौका देककर उसको एक धक्का मारकर थोड़ा पीछे हट गई. उसने मेरा हाथ पकड़कर ज़ोर से खींचा और मुझे उसने एक बार फीर से दीवार से चिपका दिया और मेरे गले पर किस करने लगा और वो मेरी सलवार के अन्दर हाथ डालकर मेरी चुत पर उंगली घुमा रहा था. मेरी सलवार एलास्टिक वाली थी इसलिए उसका हाथ उसके अन्दर बहूत आसानी से चला जाता था.

फीर कुछ देर चुम्मा चाटी, चुत को सहलाने, बूब्स को दबाने निचोड़ने के बाद उसने मुझे बेड पर लेटा दिया और अब वो अपनी टीशर्ट को उतारकर मेरे ऊपर लेट गया और वो मुझसे में तुमसे बहूत प्यार करता हूँ कहकर मुझे फीर से स्मूच करने लगा उसने अब मुझे उल्टा लेटने को कहा और मेरी कमीज़ की ज़िप को नीचे किया और कमीज़ को आधी बाहर निकाल दिया और मेरे बूब्स पर किस करने लगा मैंने अन्दर ब्रा तो पहनी ही नहीं थी बस पीछे से एक हुक था तो उसने उसको खींचकर निकाल दिया. मेरी ब्रा का हुक टूट गया. फीर उसने मेरी ब्रा को दूर फेंक दिया और फीर मेरी सलवार को उतारकर फेंका और अपनी पेंट को भी उतारकर फेंक दिया और फीर मेरे बूब्स पर किस किया चूमा, चाटा, दबाया और ऐसे करते करते उसने मेरी पेंटी को अपने मुह से नीचे किया.

अब वो मेरी चुत पर किस करने लगा था और मैंने नहीं करने दिया तो उसने मेरे हाथ को पकड़कर अपने हाथ से दबा लीया और अब वो मेरी चुत को पागलों की तरह चूमने चाटने लगा और फीर एक ही झटके में मेरी पेंटी को भी उतारकर उसने दूर फेंक दिया और अपनी अंडरवियर को भी निकालकर फेंक दिया. फीर उसने अपने लन्ड पर थोड़ा तेल लगाया और थोड़ा अपनी उंगली पर लगाकर हल्का सा उंगली को मेरी चुत में घुसाया और फीर वो मेरी चुत के ऊपर चड़ गया उसने मेरी चुत में अपना लन्ड सेट किया और मेरी चुत के अन्दर एक ही झटके में पूरा का पूरा लन्ड अन्दर घुसाकर मुझे ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा.

मैंने उसको बहूत टाईट पकड़ लीया और हम दोनों बहूत बार किस और स्मूच करे थे और मेरे मुह से आईईईईईईई की आवाज निकल रही थी आआआहह उउउफफफफफफ्फ़. फीर कुछ देर बाद जब वो लगातार धक्के दे रहा था तो मुझे बहूत दर्द हो रहा था तो मैंने उससे अब लन्ड को बाहर निकालने के लिए बोला, लेकिन उसने मेरी एक बात भी नहीं सुनी और जब उसने मुझे पहली बार चोदना शुरू किया तो मुझे बहूत दर्द हो रहा था और में उसकी वजह से बेहोश हो गई थी और वो मुझे पागलों की तरह लगातार ताबड़तोड़ धक्के लगाकर चोद रहा था और में एक मछली की तरह मचल रही थी आहहह्ह्ह्ह ऊऊहह उूउउफफफफ्फ़ आआअहह आसिफफफ्फ़.

फीर उसने अचानक से मुझे चोदते हुए मेरे बूब्स पर काटा और मेरे निप्पल पर जीभ लगाकर चाटने लगा. दोस्तों मैंने महसूस किया कि उसका लन्ड बहूत बड़ा, मोटा और लम्बा भी था, शायद 7 इंच या 8 इंच का था और बहूत सांवला भी था. वो बस मुझसे में तुमसे बहूत प्यार करता हूँ जान शादी के बाद हम रात दिन सेक्स करेंगे ये कह रहा था और मुझे लगातार किस करता जा रहा था और बुरी तरह से चोदे जा रहा था. फीर वो कुछ देर बाद नीचे बैठकर मुझे चोदने लगा और में अब भी लेटी हुई थी. तो वो मेरे बूब्स को दबा था जिसकी वजह से मुझे बहूत दर्द हो रहा था. अब अचानक से उसका लन्ड मेरी चुत से फिसलकर बाहर निकल गया और उस दो मिनट के लिए में बस बिल्कुल ठंडी पढ़ गयी फीर भी मेरा दर्द कम नहीं हुआ और मुझे बहूत दर्द हो रहा था.

फीर मैंने उससे कहा कि बस अब बहूत हो गया. प्लीज अब बन्द करो, बहूत हुआ मुझे बहूत दर्द हो रहा है. तो आसिफ़ बोला कि लन्ड को अब लन्ड को बाहर निकालने का तो सवाल ही नहीं है और अब मेरा वीर्य जब तक नहीं निकलता तब तक में तुझे चोदता रहूँगा और फीर कुछ देर बाद वो बोला कि मेरा वीर्य निकलने वाला है मेरा दिमाग़ खराब मत करना. वो फीर से मेरी चुत को ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा तो उसका एक बार फीर से लन्ड अचानक से फिसलकर मेरी चुत से बाहर निकल गया.

मैंने उसको धक्का मारा तो उसने मुझको उल्टा लेटा दिया और मेरे एकदम टाईट हाथ पकड़कर अब मेरी गान्ड में लन्ड डालने लगा. वो तेल लगाकर मेरी गान्ड में डालने की कोशिश करने लगा, लेकिन फीर भी बराबर नहीं जा रहा था तो उसने मेरी गान्ड में तेल लगाया और फीर गान्ड में पूरा दम लगाकर लन्ड को घुसा दिया. फीर से मेरे हाथ वैसे ही पकड़कर मेरी गान्ड मारने लगा और में बहूत बुरी तरह से चिल्ला रही थी और चीख रही थी आईईफफफ्फ़ छोड़ दो मुझे आअहह उह्ह्हह्ह मुझे बहूत दर्द हो रहा है और अब वो मेरी गान्ड को ज़ोर ज़ोर से मार रहा था. फीर उसने मेरे मुह में मेरा दुपट्टा घुसाया और मेरे दोनों हाथ पकड़ रखे थे. में दर्द की वजह से रो रही थी और में अब ना आवाज़ कर सकती और ना उसको अपने ऊपर से हटा सकती थी. उसने मेरे मुह पर ज़ोर से एक हाथ रखा और दूसरे हाथ से मेरा हाथ टाईट पकड़ लीया और वो बस चालू था उसका वीर्य निकलने तक. अब वो अपने लन्ड को मेरी गान्ड में आधा अन्दर डालता और फीर बाहर निकालता और तेल लगाने के बाद भी पूरा नहीं झड़ा था. वो अब बहूत परेशान हो गया था और में अब तक दो बार झड़ चुकी थी.

फीर उसने अपना लन्ड बाहर निकाला और मुझे बैठाकर बोला कि इसको चूसो. फीर मैंने उससे ये सब करने से साफ मना कर दिया तो उसने मेरे बाल पकड़कर अपने लन्ड को जबरदस्ती मेरे मुह में घुसा दिया और अब वो मेरे मुह को चोदने लगा था और वो अपने लन्ड को मेरे पूरे हलक तक डाल रहा था. फीर जैसे ही कुछ देर बाद उसका वीर्य निकलने वाला था तो उसने अपना लन्ड बाहर निकाला और पूरा वीर्य मेरे मुह पर गिरा दिया और मेरे बूब्स पर भी गिरा दिया. फीर आसिफ़ ने उठकर अपनी पेंट को पहना और मैंने भी जल्दी से अपने आपको साफ किया और पानी से अपने जिस्म को धोने बाथरूम में चली गई, लेकिन अब भी उसका मन मेरी इतनी देर तक चुदाइ करने से नहीं भरा तो वो मेरे पीछे से आया और मुझे बाथरूम में पीछे से पकड़कर मेरी गान्ड में अपना लन्ड रगड़ने लगा. में उससे बोली कि आसिफ़ प्लीज अब बस भी करो मुझे अब अपने घर पर भी जाने दो, मुझे बहूत दर्द हो रहा है और वैसे भी तुमने आज मेरे दोनों छेद को चोदकर फाड़ दिया है.

फीर वो बोला कि फरहीन तू आज मुझे पूरे मज़े लेने दे मेरी जान और ये बात बोलते हुए उसने मेरी गान्ड में अपना लन्ड घुसा दिया और अब वो मुझे वहीं पर थोड़ा सा झुकाकर डॉगी स्टाइल में मेरी गान्ड मारने लगा और मेरे बूब्स को मसलने लगा, वो बहूत ज़ोर ज़ोर से चोदे जा रहा था और में कुछ नहीं कर पा रही थी. मेरी हालत अब बहूत खराब थी क्योंकि मेरी पहली बार चुदाइ हुई थी जिसकी वजह से मेरी चुत से और अब गान्ड से भी बहूत खून भी निकलने लगा. उसने बाथरूम में चोदा और फीर कुछ देर चोदते चोदते उसने अपना पूरा वीर्य मेरी गान्ड में छोड़ दिया और मेरी गान्ड पर अपना लन्ड साफ करके बाहर चला गया.

फीर में अपने आपको साफ करके बाहर आई और अपने कपड़े पहनने लगी और में उससे बोली कि में अगली बार कभी भी तुम्हारे घर पर नहीं आउंगी. तो वो मुझसे सॉरी बोला और मुझे मनाने लगा. में फीर भी नहीं मानी, लेकिन फीर भी उसने कुछ देर के बाद मुझे कैसे भी करके मना लीया और अब में मान गई उसके बाद में हर सप्ताह दो से तीन बार उसके घर पर जाकर चुदने लगी. मुझे भी अब उससे चुदवाना अच्छा लगने लगा था और मुझे भी उसकी चुदाइ में अब बहूत मज़ा आने लगा था.



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


saks xnxxx bahi bahn ki coadai ki kahaninuwnagpur wali aunty ko khup choda indian hindi sex story aunty ki jubani.comantarwasna2.comarahar me chaci ki chudai antrvashnaristo ma xxx khanibhai ne rat ko sil tori hindi storiraj wapschudai chut ki photoचुदाईantar vasna hindiशयकसि मुसलिम बेन भईGURUMASTRAMSEXSTORYporn cudai khany mukh jubaniचुदाई देखी की सेक्स स्टोरीbahanbhaisexstorieswww.bade.bobas.bhabi.ko.nahte.dekha.khani.sex.dot.com.Antarvasana in Hindi audio tuition pane wali didi ne chudbayaantrvasna chunmuniya dot com. hindi sex kahani didi ki klitantervasna hindi storydesi girl antervasna storiscrezysexstoryचुत xxxvideoहिनदी मा बेटे कि ईशटोरी चलतीristo happy new yeur ki xxx khaniya hindi ma पेलम पेल चुदँईhindi erotic literatureघर में सामूहिक चुदाईhindixxxxxnxxvideohindi kahani chodkam free sexaudio xxx stori khanuya padahne ke liy hindi me mami and dogbur ki chudai photojanwar sax khaniprachi ki phali chudie in hindeboobsphotokahanidesi girl antervasna storisstories xxx chhota bhai tharki bhenmalkin ki gand mari hindi kahaniwww.antervasnasexstore.comxxxsexstory sexstoey antarvasna sex kahani hindihindisxestroyइंडीयन सेक्सmaa beta hindi sex storiesपड़ौसन आँटी चाची की चुदाईdasisaxyxxxxx.khhani.hindi.melesbian house ladies aur padosi dost hindi storychudai ki kahani 18eyer.comहिदी साविता sex hdपति के बहार जाने दोस्तों के साथ सेक्स क्सक्सक्सanterwasnasexstories.comdesi girl antervasna storiswww.badiammikichudai.comchut ki chudai story in hindiindiansex storysxxx ladki ke mume lodapeshabdesi sexy storiकीर्ति की अंतर्वासनाhindesixy.commosimaminew nightdeear.comसुन ने माँ के गांड मारीदसे सक्से खनीय हिन्देmeri real sex kahani sexyhindisxestroypados ke baap bete ne khub chodasexkehani,inantervasana hindi sexy storyखोत मे चुवाई हिंदी कचौदाने के फौटौसantysexkahaniनई सेकसी हिनदी कहानीdesi girl antervasna storisअन्तर्वासना आंटी को जबरन चोड़ाई कीmastram books in hindiwwwantervasanhinde.comchodh ke rakhel banaya fireehindisexsorisDr. antarwashnae sexx kahanianterwasnasexstories.comdesi girl antervasna storiscuzan sister na chodna skya khanaimuslimkamukta,hindi,comkahani chudai hindihindi sexy stories in hindi languageantarvasna hindi fontlatika aur suman sex story